चन्द्र के द्वादश भावों में शुभ-अशुभ के आम उपाय

चन्द्र के द्वादश भावों में शुभ-अशुभ के आम उपाय

1. सोमवार का व्रत रखना।
2. शिवजी की पूजन करना, अमरनाथ जी की यात्रा या पूजन करना।
3. चावल, चान्दी, दूघ आदि का दान करना।
4. सुच्चा मोती (दूध रंग) धारण करना, मोती के अभाव में चांदी धारण करना।
5. दूध का बर्तन रात को सिरहाने रख कर सुबह कीकर के वृक्ष पर डालना।
6. माता (दादी-सास-मौसी-मामी-नानी) का आशीर्वाद लेना।
7. चारपाई के पायों में चांदी के कील गाड़ना।
8. आसमानी बर्फ (ओले) शीशी में रखना या गंगा जल का प्रयोग करना।
9. श्मशान भूमि में स्थित कुएं पर कभी-कभी स्नान करना या चावल या चांदी शमशान की चारदीवारी के अंदर
गिराना।
10. चलते पानी में (गंगा) स्नान करना।
11. छत पर पानी की टैंकी गोल न बनवाना या न लगाना (चैरस का वहम नहीं)।
12. घर की पानी की टैंकी को 3-6 महीने में सफाई करवाते रहना।
13. सीढ़ियों के ऊपर/सामने हैण्डपम्प न रखना।
14. घर की छत के नीचे कुआं या हैण्डपम्प न लगाना।
15. चन्द्र उच्च हो तो चन्द्र की चीज़ों का दान न देना।
16. चन्द्र नीच हो तो चन्द्र की चीज़ों का दान न लेना।
नोट- उपरोक्त उपाय 43 दिन या सप्ताह या मास लगातार करने चाहिए।

Categories: उपाय

Write a Comment

<


*