बृहस्पति के द्वादश भावों में शुभ-अशुभ के आम उपाय

बृहस्पति के द्वादश भावों में शुभ-अशुभ के आम उपाय

1. बृहस्पति वार का व्रत रखना।
2. हरि पूजन करना या पीपल की पालन करना।
3. श्री विष्णु भगवान् को नमस्कार करना।
4. पुखराज पहनना, पुखराज के अभाव में हल्दी की गट्ठी पीले रंग के धागे में बांध कर दायीं भुजा पर बांधना।
5. चांदी की कटोरी में केस-/हल्दी का तिलक करना।
6. शुद्ध सोना धारण करना (बृहस्पति षष्ठ भाव को छोड़कर)।
7. नाभि (धुनी) पर केसर लगाना या केसर खाना।
8. ब्राह्मण, कुल पुरोहित या साधू की सेवा करना।
9. गरुड़ पूजा (गरुड़ पुराण) करना।
10. घर की दीवारों पर पीला रंग करना।
11. पीले फूल (गेंदा या सूरजमुखी) लगाना।
12. बृहस्पति उच्च हो तो बृहस्पति की चीज़ों का दान न देना।
13. बृहस्पति नीच हो तो बृहस्पति की चीज़ों का दान न लेना।
नोट – उपरोक्त उपाय 43 दिन या सप्ताह या माह लगातार करने चाहिए।

Categories: उपाय